More News

आजना रेल्वे बजेट पर एक नजर

आजना रेल्वे बजेट पर एक नजर

पहला बायो वैक्यूम टॉयलेट डिब्रूगड़ राजधानी में लगेगा।
-
मेक इन इंडिया के तहत 4 हजार करोड़ रुपए रेलवे के विकास के लिए लगाए जाएंगे।
-
65 हजार एडिशनल बर्थ ट्रेनों में लगेंगे। 
-
जनलर बर्थ में मोबाइल चार्जिगं प्वाइंट। 
-
17 हजार बायो टॉयलेट इस साल के अंत ट्रेनों में लगेंगे
-
2500 ऑटोमैटिक वाटर वेंडिंग मशीन लगेंगी। 
-
दो साल में 400 स्टेशनों को वाईफाई किया जाएगा।
-
400 स्टेशनों को निजी भागीदारी से डेवलप किया जाएगा।
-
यात्रियों की शिकायत के लिए नई फोन लाइन शुरू होगी। 
-
311 स्टेशनों पर सीसीटीवी सिक्युरिटी।
-
मेक इंडिया के तहत 2 रेल इंजन कारखाने बनेंगे।
-
बडोदरा में रेलवे यूनिवर्सिटी बनेगी। 
-
व्हीलचेयर की ऑनलाइन सुविधा दी जाएगी।
महिला सुरक्षा
-
नई हेल्पलाइन का एलान।
अंत्योदय एक्सप्रेस- पूरी तरह से अनरिजर्व्ड लॉन्ग डिस्टेंस ट्रेन शुरू होगी।
दीनदयाल एक्सप्रेस के तहत - कई लांग डिस्टेंस ट्रेनों में नए कोच लगाए जाएंगे। 
-
अगले तीन महीनों में फॉरेन कार्ड्स पर भी ई रिजर्वेशन किया जा सकेगा। 
-
139 हेल्पलाइन से ही टिकट कैंसिल कराए जा सकेंगे
-
हर तत्काल के लिए थर्ड पार्टी एग्रीमेंट किया जाएगा। जो तत्काल के समय साइट हैक ना की जा सके। 
-
तत्काल काउंटर पर सीसीटीवी कैमरे लगेंगे। 
-
हमसफर तेजस के नाम से नई ट्रेनें चलाई जाएंगी। 
तेजस की स्पीड 130 किमी प्रति घंटे होगी
-
ट्रेनों में सफाई के लिए क्लीन माई कोच फैसेलिटी शुरू की जाएगी। 
-
सारथी सेवा शुरू जाएगी। दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए ये सेवा शुरू की जाएगी।
-
408 स्टेशनों पर ई कैटरिंग की सेवा शुरूहोगी।
-
आईआरसीटीसी खानपान सेवा में सुधार करेगी
-
बेबीफूड, हॉट वाटर की सुविधा स्टेशनों पर दी जाएगी।
-
हर कैटेगरी में 33% सीटें महिलाओं के लिए रिजर्व होंगी।
-
टिकट पर ऑप्शनल इन्सोरेंस फैसेलिटी।
-
बिजी रूट पर डबल-डेकर नाइट ट्रेन चलेंगी। 
-
अजमेर, अमृतसर, गया, सारनाथ, वाराणसी जैसे तीर्थ स्थलों के स्टेशनों का रिनोवेशन किया जाएगा।
-
रेस्ट रूम में हर घंटे के हिसाब से बुकिंग होगी। 
-
अहमदाबाद-मुंबई के बीच हाई स्पीड कॉरीडोर
-
कोलकाता में एक्सप्रेस कॉरीडोर बनाया जाएगा। 
-
मुंबई में मेट्रो स्टेशन रेलवे स्टेशनों और एयरपोर्ट्स से जोड़े जाएंगे। 
-
आस्था सर्किट योजना- तीर्थ स्थानों को जोड़ने के लिए। 
-
दिल्ली के रिंग रोड की तर्ज पर रिंग रेलवे शुरू होगी। इसमें 21 स्टेशन होंगे।
-
2500 ऑटोमैटिक वाटर वेंडिंग मशीन लगेंगी। 
-
दो साल में 400 स्टेशनों को वाईफाई किया जाएगा
-
400 स्टेशनों को निजी भागीदारी से डेवलप किया जाएगा।
-
यात्रियों की शिकायत के लिए नई फोन लाइन शुरू होगी। 
-
311 स्टेशनों पर सीसीटीवी सिक्युरिटी।
-
2020 तक एक भी मानवरहित रेलवे फाटक नहीं होगा।
-
सोशल मीडिया को डे-टू-डे वर्किंग में यूज करके ट्रांसपेरेंसी लाई जाएगी।

2020 तक सबको रिजर्वेशन और समय पर गाड़ियां चालने का लक्ष्य।
-
इस साल 8720 करोड़ रुपए की बचत हुई। 
-
पिछले साल के मुकाबले 10% ज्यादा इनकम का लक्ष्य।
-
अगले साल 184450 करोड़ जुटाने का अनुमान।
-
तत्‍काल रि‍जर्वेशन काउंटर सीसीटीवी की नि‍गरानी में होंगे। 

अनरि‍जवर्ड के लि‍ए आएगा मोबाइल ऐप।  रेलवे टि‍कट के लि‍ए लॉन्‍च करेगा स्‍मार्ट कार्ड।

1780 ऑटोमेटि‍क टि‍कट वेंडिंग मशीन लगाए जाएंगे।

पीओएस मशीन से भी मि‍लेगा टि‍कट।  

टि‍कट में होगा बारकोड ।
-
सीनियर सिटिजन का कोटा 50 फीसदी तक बढ़ाया गया है। हर ट्रेन में 120 लोवर बर्थ सीट रि‍जर्व रखी जाएंगी।

रि‍टायरल रूम की ऑनलाइन बुकिंग शुरू की गई है।
-
पैसेंजर्स को ट्रैवल इंश्‍योरेंस पॉलि‍सी भी दी जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Search In This Website

Custom Search

Get Update By Email

Join Gujarat No. 1 GK App